Mushroom Farming Business

How To Start Mushroom Farming Business

Share This Article

मशरूम की खेती कैसे शुरू करे

मशरूम का उत्पादन ग्रामीण युवाओं के लिए एक अच्छा व्यवसाय साबित हो रहा है। इसकी मांग बढ़ रही है, पर आपूर्ति उतनी नहीं हो रही है, ऐसे में यह व्यवसाय फायदे का सौदा है। इसे देखते हुए मशरूम के बड़े पैमाने पर उत्पादन की आवश्यकता है। हालांकि अब गांव ही नहीं, शहरों में भी शिक्षित युवा मशरूम उत्पादन को करियर के रूप में अपनाने लगे हैं।मशरूम की खेती को छोटी जगह और कम लागत में शुरू किया जा सकता है और लागत की तुलना में मुनाफा कई गुना ज्यादा होता है ।

मशरूम क्या है

What is Mushroom Farming

मशरूम एक पौष्टिक आहार है। इसमें एमीनो एसिड, खनिज, लवण, विटामिन जैसे पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं। मशरूम से तरह-तरह के व्यंजन तैयार किए जा सकते हैं। मशरूम के प्रोडक्ट बना कर उनको बेचना एक अच्छा व्यवसाय हो सकता है। मशरूम पाउडर, मशरूम पापड़ और मशरूम का अचार तैयार करने का काम कुटीर उद्योग स्तर पर किया जा सकता है।

मशरूम बीज की कीमत

Mushroom Seed Price

इसके बीज की कीमत लगभग 75 रुपए प्रति किलोग्राम होती है, जो कि ब्रांड और किस्म के अनुसार बदलती रहती है. इसलिए आपको पहले यह तय करना होगा, कि आप किस किस्म की मशरूम को उगाना चाहते है.

मशरूम कहां बेच सकते है

Where Can We Sell Mushrooms

मशरूम की मांग कई जगहों पर होती है। इसके अलावा मशरूम का उपयोग अधिकतर चाइनीज खाने में किया जाता है. इसके अन्य लाभकारी गुणों के कारण इसको मेडिकल के क्षेत्र में भी उपयोग किया जा रहा है. इतना ही नहीं इसका निर्यात एवं आयात भी कई देशों में किया जाता है, अर्थात इसको बेचने के लिए बहुत से क्षेत्र मौजूद है.

मशरूम के व्यापार में खर्च होने वाली राशि

Amount Spent In The Mushroom Trade

इस पर लगाई जाने वाली राशि आपकी क्षमता एवं व्यापार के स्तर के अनुसार बदलती रहती है.अगर आप छोटा व्यापार शुरू करते है, तो 10000 रुपए से 50000 रुपए तक लगा सकते हैं. वहीं बड़े व्यापार के लिए आप 1 लाख रुपय से 10 लाख रुपए का निवेश करना उचित रहेगा.

मशरूम के व्यापार में मिलने वाला लाभ

Benefits of Mushroom Trade

आप इस व्यापार में कम समय में ही अच्छा मुकाम हासिल कर सकते है. अगर आप 100 वर्गमीटर में व्यापार आरम्भ करते है, तो आपको लगभग 1 लाख रुपए से लेकर 5 लाख तक का लाभ मिल सकता है, वो भी हर साल. हालांकि ये आपकी उत्पादन क्षमता बढ़ाने वाली तकनीकी पर निर्भर करेगा.

मशरूम कहां पैदा हो सकता है

Where Can Mushroom Grow

मशरूम उत्पादन में मौसम का खास महत्व है। मशरूम की एक वैराइटी वॉल वैरियल्ला के लिए तापमान 30 से 40 डिग्री सेल्सियस व नमी 80 से ज्यादा होनी चाहिए। इसका उत्पादन अप्रैल से अक्तूबर के बीच किया जाता है। ऑयस्टर मशरूम के लिए तापमान 20 से 30 डिग्री सेल्सियस तथा नमी 80 फीसदी से अधिक होनी चाहिए। इसके उत्पादन के लिए सितम्बर-अक्तूबर का महीना बेहतर माना जाता है। टेम्परेंट मशरूम के लिए 20 से 30 डिग्री सेल्सियस तापमान व 70 से 90 फीसदी नमी जरूरी है। इसका उत्पादन अक्तूबर से फरवरी के बीच ठीक रहता है।

बड़े स्तर पर मशरूम की खेती

Large Scale Mushroom Farming

बड़े स्तर पर मशरूम की खेती हेतु आपको बड़े स्थान के साथ-साथ बीज की मात्रा में भी वृद्धि करनी होती है. मतलब अंतर सिर्फ स्थान, लागत एवं कच्चे माल को खरीदने में ही होता है. मशरूम उगाने की प्रक्रिया तो सभी की एक समान ही होती है.

मशरूम की खेती करने की प्रक्रिया

Mushroom Farming Process

मशरूम की खेती करने के लिए आपको एक कमरे की जरुरत होती है, लेकिन आप चाहें तो लकड़ियों का एक जाल बनाकर भी उसके नीचे मशरूम उगाना आरम्भ कर सकते हैं. बाकी सभी बिंदु सभी स्तर के व्यापार के लिए एक जैसे होते हैं  ये निम्न प्रकार है

1.धान और गेहूं के भूसे की मदद से कॉम्पोस्ट खाद बनाना जिसके लिए आप गेहूं या धान के भूसे का उपयोग कर सकते है.

2. इसके बाद मशरूम की बुवाई की जाती है बुवाई की प्रक्रिया समाप्त हो जाने के बाद इस पैकेट में कुछ छोटे-छोटे छिद्र कर दिए जाते है. जिससे मशरूम के पौधे बाहर निकल सकें.

3. लगभग 15 दिन तक इस फसल को हवा लगने से बचाना पड़ता है,फिर 15 दिन के बाद इसी कमरे को खुला छोड़ दे या पंखे का भी इंतजाम कर दें.

4.नमी पर नियंत्रण करने के लिए आपको कभी-कभी दीवारों पर पानी का छिड़काव करना होगा,इसके बाद आपको कमरे के तापमान पर भी ध्यान देना बहुत जरुरी है. मशरूम की फसल को अच्छे से उगाने हेतु लगभग 20 से 30 डिग्री का तापमान ही ठीक रहता है.

5.अपने कमरे में मशरूम की खेती करने के लिए आपको मशरूम वाले थैले को तरीकों से रखना होता है.

6.विशेषज्ञों की माने तो इसकी फसल अधिकतम 30 से 40 दिनों के भीतर काटने के लिए तैयार हो जाती है. उसके बाद आपको इसका फल दिखाई देने लगता है, जिसे आप आसानी से हाथ से ही तोड़ सकते हैं.

सरकार द्वारा सहायता

Assistance by The Government

मशरूम उत्पादन स्वरोजगार के लिहाज से अच्छा माना जा रहा है। यह काम कम पूंजी और छोटी जगह पर भी हो सकता है। सरकार इस क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिए अनेक योजनाएं चला रही है। मशरूम उत्पादन को स्वरोजगार के रूप में अपनाने वाले उम्मीदवारों को भारत सरकार के कृषि मंत्रालय द्वारा पांच लाख रुपए तक की आर्थिक सहायता की व्यवस्था की जाती है।

सरकार द्वारा मशरूम की खेती के लिए प्रशिक्षण

Training for Mushroom Cultivation by The Government

छोटे किसानों को इस व्यापार में सब्सिडी  देकर उनका मदद की जा रही है. सब्सिडी के अलावा सरकार द्वारा मुफ्त प्रशिक्षण की सुविधा भी दी जा रही है. जिसके लिए सरकार ने कई प्रशिक्षण केंद्र खोल रखे है. जहां आपको मशरूम उगाने की सभी तकनीकों के बारे में सिखाया जायेगा.


Share This Article

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!